व्यापार करने पर शिक्षा चर्चा!

वह व्यक्ति जिसका व्यापार व्यक्तिगत सेवाओं को बेचना है उसे एक कुशल व्यापारी जरूर होना जाहिए। यदि उसकी सेवायें एक व्यवसाय में पर्याप्त रिटर्न नहीं देती हैं, तो उसे अन्य से बदलना होगा, जहाँ व्यापक अवसर उपलब्ध हैं। स्टुअर्ट ऑस्टिन वियर ने एक निर्माण इंजीनियर के रूप में खुद को तैयार किया और इसी क्षेत्र में तब तक आगे बढ़ा जब तक अवसाद ने उसके बाजार को सीमित नही कर दिया जहाँ से इसने उसे वह अपेक्षित आय नही दी। उसने खुद की सूची बनाई, कानून को अपने पेशे में बदलने का फैसला किया, वापस स्कूल गया और विशेष पाठक्रम लिया जिसके द्वारा उसने खुद को एक निगम वकील के रूप में तैयार किया। इस तथ्य के बावजूद कि अवसाद खत्म नहीं हुआ था, उसने अपना प्रशिक्षण पूरा किया, बार परीक्षा उत्तीर्ण की है, और जल्दी ही डलास, टेक्सास में एक आकर्षक कानून व्यवसाय खड़ा कर लिया; वास्तव में वह ग्राहकों को लौटा रहा है। बात को सीधी रखने के लिए और उन लोगों के बहानों का पूर्वानुमान लगाते हुए, जो कहेंगे मैं स्कूल नही जा सकता क्योंकि मेरे पास पालने के लिए एक परिवार है, “या मैं बूढा हो गया हूँ,” मैं एक जानकारी जोडूंगा कि श्रीमान वियर चालीस से अधिक उम्र के और शादीशुदा थे जब वे वापस स्कूल गए। इसके अलावा, ध्यान से चुने हुए विषयों को पढ़ाने के लिए सबसे अच्छे तैयार कॉलेजों में, अति विशिष्ट पाठक्रम का चयन करके, श्रीमान वियर ने दो साल में वह काम पूरा कर लिया जिसके लिए अधिकतर कानून के छात्रों को चार साल की आवश्यकता पड़ती है। ज्ञान कैसे खरीदें यह जानना लाभदायक है! वह व्यक्ति जो अध्ययन केवल इसलिए बंद कर देता है क्योंकि वह स्कूल समाप्त कर चुका है, हमेशा निराशा के साथ सामान्य रहने के लिए अभिशप्त हो जाता है, कोई फर्क नही पड़ता उसका कोई भी व्यवसाय हो। ज्ञान की निरंतर खोज का तरीका ही सफलता का रास्ता है। हम एक विशिष्ट उदाहरण पर विचार करते हैं। अवसाद के दौरान एक किराने की दुकान में एक विक्रेता ने खुद को बेरोजगार पाया!

बहीखाते का कुछ अनुभव होने से उसने लेखांकन में एक विशेष पाठक्रम ले लिया, खुद को सभी नवीनतम बहीखातों और कर्यालय उपकरणों से परिचित कराया और खुद के कारोबार में लग गया। उस पंसारी के साथ शुरू करते हए जिसके लिए वह पहले काम किया करता था, उसने १०० से अधिक छोटे व्यापारियों के साथ एक बहुत ही मामूली मासिक शुल्क पर उनका हिसाब किताब रखने के लिए अनुबंध किया। उसका विचार इतना व्यावहारिक था कि जल्द ही उसने एक हलके वितरण ट्रक में एक पोर्टेबल कार्यालय स्थापित करने की आवश्यकता महसूस किया, जिसे उसने आधुनिक बहीखाता मशीनों से सुसज्जित किया!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *